दुनिया की सबसे छोटी महिला:-

आजकल की दुनिया में जब हर कोई अपनी हर चीज काफी बड़ी चाहता है ऐसे में अगर आप खुद काफी छोटे हो तब आप कैसा महसूस करेंगे ? जी हां यह सवाल आपसे इसलिए पूछ रहे हैं क्योंकि आज हम आपको जिस महिला के बारे में बताने जा रहे हैं उन्हें दुनिया की सबसे छोटी कद की महिला होने का दर्जा प्राप्त है. आज हम आपको ज्योति आमगे के बारे में बताने जा रहे हैं जिन्हें गिनीज बुक ऑफ द वर्ल्ड रिकार्ड्स ने दुनिया की सबसे छोटी महिला होने का दर्जा दिया है.

आज हम आपको इनकी जिंदगी से जुड़े कुछ रोचक तथ्य बताएंगे जिन्हें जानने के बाद आप भी आश्चर्यचकित हुए बिना नहीं रह पाएंगे. जरा सोचिए आज की दुनिया में जहां हर कोई अपनी शारीरिक क्षमताओं से दुखी रहता है वहीं अगर आप दुनिया के सबसे छोटे शख्स हो तब आप कैसा महसूस करेंगे।

16 दिसंबर 1993 को ज्योति का जन्म नागपुर में हुआ था. ज्योति आमगे को अपने इस छोटे कद का जरा सा भी मलाल नहीं है. किसी अन्य महिला की तरह ज्योति ने भी अपनी दैनिक जिंदगी को काफी साधारण तरीके से जीना सीख लिया है. छोटी सी ज्योति आमगे के सपने काफी बड़े हैं और उन्होंने अपनी कमजोरी को अपनी सबसे बड़ी मजबूती बना ली है.

कुछ ऐसी दिखती है ज्योति आमगे

ज्योति आमगे किसी सामान्य महिला से बिल्कुल अलग दिखती है और उनका वजन केवल 5.5 किलो है. ज्योति आमगे नागपुर के किशन और रंजना आमगे की बेटी है. ज्योति आमगे की लंबाई मात्र 2 फुट 0.6 इंच है. जो कोई भी ज्योति को देखता है वह उन्हें काफी आश्चर्य भरी निगाहों से देखता ही रह जाता है.

ज्योति को अपनी उम्र की अन्य लड़कियों के साथ खेलना काफी पसंद है और वह अन्य लड़कियों की तरह स्कूल जाना भी पसंद करती है. गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड में इन्हें दुनिया की सबसे छोटी महिला करार दिया है. ज्योति एक बेहद ही विचित्र हड्डियों की बीमारी से पीड़ित है जिसके कारण उनका वजन और लंबाई अन्य महिलाओं की तुलना में काफी कम है.

मात्र 5 साल की उम्र में उन्हें यह बीमारी हो गई थी जिसके बाद उनके माता-पिता ने डॉक्टरों से दिखलाया लेकिन कोई फायदा नहीं हुआ. ज्योति आमगे नागपुर के एक स्कूल में जब पढ़ने गई तब स्कूल के अध्यापक ने उनके हिसाब से सारी चीजें उपलब्ध कराएं जिसमें उनके लिए खास बेंच और डेस्क बनवाए गए और अन्य सुविधाएं भी उपलब्ध कराई गई.

ज्योति आमगे अपनी कम लंबाई को लेकर जरा सा भी दुखी नजर नहीं आती हैं और उन्होंने काफी बड़ी उपलब्धियां हासिल की है. आशा है ज्योति आमगे की कहानी जानकर आप भी आत्मविश्वास से भर उठें होंगे। अगर आपको हमारा यह आर्टिकल पसंद आया हो तो कृपया लाइक करें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here