indvsaus-5-reasons-of-team-india-defeat-in-sydney-odi-3

तीन वनडे सीरीज के पहले मैच में टीम इंडिया को करारी हार का सामना करना पड़ा. इस मैच में ऑस्ट्रेलिया ने पहले बल्लेबाजी करते हुए टीम 288 रन बनाए जिसका पीछा करते हुए टीम इंडिया की पारी शुरुआत से ही लड़खड़ा गई और दबाव में वापसी नहीं कर सकी.

इंडिया के लिए रोहित शर्मा ने सबसे ज्यादा 133 रनों की पारी खेली लेकिन उन्हें भी लंबा साथ नहीं मिला. रोहित के अलावा एमएस धोनी ने भी 51 रनों की पारी खेली लेकिन वे रोहित का ज्यादा साथ नहीं दे सके. इस मैच में टीम इंडिया की हार के 5 खास कारण थे.

indvsaus-5-reasons-of-team-india-defeat-in-sydney-odi-2

पहला: टीम इंडिया की कमजोर शुरूआत – इस मैच में ऑस्ट्रेलिया के दिए 289 रनों के लक्ष्य का पीछा करने उतरी टीम इंडिया की शुरुआत बहुत ही खराब रही और चौथे ओवर तक टीम इंडिया के तीन प्रमुख बल्लेबाज पवेलियन लौट गए.

दूसरा: शुरुआती विकेटों का दबाव – शुरुआत में तीन विकेट गंवाना कोई बहुत बड़ी बात नहीं थी, खासकर जितनी बन गई. धोनी और रोहित ने अपने विकेट बचाने के चक्कर में रनरेट पर ध्यान ही नहीं दिया और पहले 10 ओवर में टीम का स्कोर 21 रन, 15 ओवर के बाद स्कोर 44 और 20 ओवर के बाद 68 रन था.

तीसरा: रोहत-धोनी की धीमी बल्लेबाजी – इसे अंदाज कहें या मिजाज. रोहित और धोनी शुरुआत से ही धीमी बल्लेबाजी करते हैं और अंत में तेजी लाते हैं. शनिवार को यही बात टीम इंडिया को ले डूबी. जहां धोनी अपनी पारी को तेज करने के समय ही आउट हो गए, वहीं रोहित ने जब तक पारी तेज की तब तक काफी चीजें टीम के खिलाफ हो चुकी हैं.

चौथा: भारतीय स्पिनर नहीं बना सके दबाव – इस मैच में भारतीय स्पिनर्स ने विकेट तो लिए लेकिन वे रन रोकने लिहाज से वह दबाव नहीं बना सके जो ऑस्ट्रेलिया को बड़ा स्कोर बनाने से रोक पाता. इस मैच में कुलदीप यादव और रवींद्र जडेजा के रूप में दो नियमित स्पिनर्स के साथ विराट कोहली उतरे थे.

पांचवा: स्लॉग ओवरों में भारतीय गेंदबाज रहे बेअसर – स्लॉग ओवरों में यानि अंतिम दस ओवरों में ऑस्ट्रेलिया के बल्लेबाज 93 रन बनाने में कामयाब रहे. भुवनेश्वर ने 40 ओवरों से पहले तक 7 ओवरों में केवल 26 रन दिए थे. लेकिन 10 ओवरों में उनके 66 रन गए. यानि अंतिम तीन ओवरों में उन्होंने केवल 40 रन दे डाले.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.