मोदी ने दिए मुख्यमंत्रियों को निर्देश
– सूत्रों के मुताबिक, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सभी मुख्यमंत्रियों को स्पष्ट निर्देश दिया कि राज्य में एक सीनियर मंत्री की अगुआई में एक कमेटी बनाई जाए जिसमें पूर्व मुख्य सचिव, निर्वाचन अधिकारी रहे राज्य के सीनियर अफसर, नामी वकील और वरिष्ठ एकेडमिक लोग भी शामिल हों। मोदी ने इस बारे में होने वाली पहली बैठक में मुख्यमंत्री को खुद मौजूद रहने का भी निर्देश दिया है।
– बीजेपी इस कमेटी के जरिए से एक साथ चुनाव कराने को लेकर संभावनाएं टटोलने के अलावा देश में एक माहौल बनाने की तैयारी कर रही है, ताकि इस पर अमल हो सके।
– पीएम के निर्देश में बीजेपी अध्यक्ष शाह ने कहा कि आम सहमति बनाने की कवायद जारी रखना है ताकि 2024 या 2029 तक देश भर में एक साथ चुनाव कराने का सपना साकार किया जा सके।

एक ही वोटर लिस्ट बने: मोदी
– मोदी ने कहा कि पंचायत से पार्लियामेंट चुनाव तक एक ही वोटर लिस्ट बने। हर चुनाव में अलग से वोटर लिस्ट बनती है। इससे समय, ऊर्जा और पैसे की बर्बादी होती है। इसलिए राज्य सुनिश्चित करे कि एक ही बार में वोटर लिस्ट की सूची बन जाए।
– मोदी ने नीति आयोग की ओर से चिन्हित 115 पिछड़े जिलों को फोकस करने और योजनाओं को तेजी से लाने का भी निर्देश दिया।
– पीएम ने कहा कि युवा अफसरों में ऊर्जा होती है और नई सोच वाले होते हैं जिन्हें प्राइम जगहों पर तैनात करके योजनाओं में गति लाने की नीति अपनानी चाहिए।

बीजेपी ने एक देश और एक चुनाव के मुद्दे पर कदम बढ़ा दिया है। बीजेपी आलाकमान ने बुधवार देर तक चली बीजेपी शासित राज्यों के मुख्यमंत्रियों-उपमुख्यमंत्रियों की बैठक में निर्देश दिया है कि वे एक देश-एक चुनाव के समर्थन में राज्य विधानसभा में एक प्रस्ताव पारित कराकर केंद्र को भेजें। पार्टी का मानना है कि इससे राष्ट्रीय स्तर पर बहस को निर्णायक दिशा मिलेगी। पार्टी के नए मुख्यालय में हुई बैठक में प्रधानमंत्री कार्यालय के एक अधिकारी ने प्रेजेंटेशन भी दिया। इस प्रेजेंटेशन में एक साथ होने वाले चुनाव से धन की बचत और विकास के काम को रफ्तार मिलने के फायदे भी गिनाए गए।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here