पंजाब नेशनल बैंक (पीएनबी) के साथ 11,356 करोड़ रुपए का घोटाला करने के मुख्य अारोपी नीरव मोदी और उसके मामा मेहुल चौकसी का पासपोर्ट रद्द कर दिया है। पहले विदेश मंत्रालय ने इनके पासपोर्ट 4 हफ्ते के लिए सस्पेंड किए थे। उस वक्त इनको नोटिस भेजकर पूछा गया था कि क्यों ना आपका पासपोर्ट रद्द कर दिया जाए। सरकार ने कहा था कि अगर ये लोग एक हफ्ते के भीतर जवाब नहीं देते हैं, तो पासपोर्ट रद्द कर दिए जाएंगे। इस बीच, सीबीआई ने पीएनबी के एमडी सुनील मेहता और डायरेक्टर ब्रह्मा राव से पूछताछ की।

ईडी और पासपोर्ट ऑथोरिटी में तालमेल नहीं

– नीरव मोदी के वकील विजय अग्रवाल ने कहा कि ईडी और पासपोर्ट ऑथोरिटी विरोधाभासी कार्रवाई कर रहे हैं। पासपोर्ट ऑथोरिटी ने शुरुआत में पासपोर्ट सस्पेंड किए थे। अब उन्हें रद्द कर दिया है। ईडी कह रही है कि आइए और हमारी जांच में सहयोग कीजिए। अगर पासपोर्ट नहीं होगा तो वह कैसे विदेश से आएंगे।

– बता दें कि नीरव और मेहुल चौकसी उन पर केस दर्ज होने से पहले ही देश से बाहर चले गए थे।

11वें दिन भी कार्रवाई, 21 प्रॉपर्टी और अटैच

– एन्फोर्समेंट डायरेक्टोरेट (ईडी) ने शनिवार को 11वें दिन कार्रवाई की। 21 प्रॉपर्टी और अटैच की। इनकी कीमत 523.72 करोड़ रुपए है। यह कार्रवाई अहमदनगर, मुंबई और पुणे में की गई।

– शनिवार को अटैच की गई प्रॉपर्टी में छह हाउसिंग कॉम्पलेक्स, 10 ऑफिस कैम्पस, पुणे स्थित दाे फ्लैट, एक सोलर पावर प्लांट, अलीबाग का फार्म हाउस और अहमदनगर जिले की 135 एकड़ जमीन शामिल है।

मोदी ग्रुप की कुल कितनी प्रॉपर्टी जब्त?

– न्यूज एजेंसी ने शुक्रवार को ईडी के अफसरों के अनुमान के आधार पर बताया था कि अब तक नीरव की 5,870 करोड़ से ज्यादा की प्रॉपर्टी जब्त की जा चुकी है। शनिवार को 523.72 करोड़ की प्रॉपर्टी जब्त किए जाने के बाद यह आंकड़ा 6,393 करोड़ हो गया है।

– बता दें कि इस मामले में ईडी, सेंट्रल ब्यूरो ऑफ इन्वेस्टिगेशन (सीबीआई), और इंस्टीट्यूट ऑफ चार्टर्ड अकाउंटेंट्स ऑफ इंडिया (आईसीएआई) कार्रवाई कर रहे हैं।

नीरव के पास शुक्रवार को क्या मिला था?

– ईडी ने शुक्रवार को मुखबिर की सूचना पर नीरव के एक गोडाउन पर छापा मारा था। इस कार्रवाई में कई इम्पोर्टेड घड़ियां जब्त की गई थीं। ये स्टील की 176 अलमारियों, 158 डिब्बों और 60 प्लास्टिक कंटेनर में भरी थीं। 30 करोड़ रुपए का बैंक डिपॉजिट और 13.86 करोड़ रुपए के शेयर भी जब्त किए गए थे।

ईडी ने तीसरा समन भी भेजा
– नीरव मोदी को ईडी ने तीसरा समन भेजा है। इसमें उसे 26 फरवरी को पेश होने को कहा गया है। पेश नहीं होने पर उसके प्रत्यर्पण (Extradition) की कार्रवाई की जाएगी। इससे पहले नीरव ने लेटर लिखकर ईडी के सामने पेश होने से मना कर दिया था।

नीरव मोदी और मेहुल चौकसी से जुड़ा मामला क्या है?
– पंजाब नेशनल बैंक ने पिछले दिनों सेबी और बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज को 11,356 करोड़ रुपए के घोटाले के जानकारी दी थी। घोटाला पीएनबी की मुंबई की ब्रेडी हाउस ब्रांच में हुआ। शुरुआत 2011 से हुई। 8 साल में हजारों करोड़ की रकम फर्जी लेटर ऑफ अंडरटेकिंग्स (एलओयू) के जरिए विदेशी अकाउंट्स में ट्रांसफर की गई।
– 2017 में फोर्ब्स की अमीर भारतीयों की लिस्ट में शामिल नीरव मोदी इस फ्रॉड के केंद्र में है। मोदी का मामा मेहुल चौकसी भी आरोपी है। चौकसी गीतांजलि ग्रुप चलाता है। ग्रुप की तीन कंपनियों गीतांजलि जेम्स, गिली इंडिया और नक्षत्र के खिलाफ फ्रॉड केस दर्ज हुए हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.